नई दिल्ली. दिल्ली में आयोजित ऑटो संवाद कार्यक्रम में बोलते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में भ्रष्टाचार 70 से 80 प्रतिशत कम हो गया है. इसी के साथ केजरीवाल ने एक खुलासा अपनी बेटी को लेकर भी किया. उन्होंने बताया कि मेरी बेटी जब ड्राइविंग लाइसेंस जल्दी बनवाने के लिए घूस देने लगी तो कर्मचारियों ने रिश्वत लेने से साफ मना कर दिया. 

उन्होंने कहा, ‘मेरी बेटी अपने लिए लर्नन ड्राइविंग लाइसेंस लेने गई. उसने अधिकारी को बताया कि उसके पास एक जरूरी सर्टिफिकेट नहीं है. उसने उस अधिकारी को रिश्वत देने की कोशिश की. मेरी बेटी ने जोर देकर कहा कि उसके लिए यह बेहद जरूरी है और वह इसके लिए कितने भी पैसे देने को तैयार है, लेकिन उस अधिकारी ने उसे मना कर दिया.’

रैली में हजारों की संख्या में ऑटोरिक्शा चालकों को संबोधित करते हुए आम आदमी पार्टी (आप) के नेता केजरीवाल ने एक हेल्पलाइन नंबर (011-4240 0400) शुरू की, जहां लोग ऑटोचालकों के खिलाफ शिकायतें दर्ज करा सकते हैं. उन्होंने कहा कि यात्री ऑटोरिक्शा चालकों से नाराज हैं, क्योंकि ये लोग आमतौर पर यात्रियों को ले जाने से इनकार कर देते हैं, मीटर नहीं चलाते और यात्रियों से दुर्व्यवहार करते हैं. 

उन्होंने बताया कि अब वर्दी नहीं पहनने पर ऑटोचालकों पर कार्रवाई का अधिकार दिल्ली यातायात पुलिस को नहीं, बल्कि दिल्ली सरकार के परिवहन विभाग के पास होगा.