नई दिल्ली. अरूणाचल प्रदेश में भारतीय सेना के रूटीन अभ्यास के दौरान एक जवान की मौत के बाद सेना में बगावत की खबरे सामने आ रही थी. इस खबर को सेना के अफसरों ने गलत बताते हुए कहा है कि सेना में कोई बगावत नहीं कर रहा है.
 
खबर आई थी कि अरुणाचल प्रदेश के किबतु के हलयूलियांग में  एक इंफैन्ट्री यूनिट के जवानों ने शनिवार को प्रदर्शन किया था. और यह प्रदर्शन जवान की मौत के विरोध में किया गया था. इस बात से सेना के अफसरों ने साफ इंकार कर दिया है. 
 
सोशल मीडिया में यह खबर फैल रही थी कि जब एक यूनिट को सजा दी गई तो एक जवान की हार्ट अटैक से मौत हो गई थी, जिसके कारण सिपाहियों और अधिकारियों में लड़ाई हो गई थी. सेना ने इस मामले पर कहा है कि जवान की मौत के बाद कुछ सैनिक भाविक और उत्तेजित हो गए थे और आपस में मामूली हाथापाई हो गई थी, जिसमें कोई घायल नहीं हुआ था.
 
सेना के अधिकारियों का कहना है कि अभ्यास से पहले जवान ने छाती में दर्द की शिकायत की थी, जिसके बाद मेडिकल ऑफिसर ने उसकी जांच की थी. जांच में उसे फिट पाया गया था. लेकिन अभ्यास के दौरान वह गिर पड़ा और उसकी मौत हो गई.