पटना. बिहार के सिवान में पत्रकार राजदेव रंजन की हत्या के मामले में पुलिस के हाथ अभी तक खाली हैं. पुलिस ने इस मामले में चार संदिग्धों को गिरफ्तार किया था, जिसमें से दो को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया. 
 
हिन्दी अखबार हिन्दुस्तान के ब्यूरो चीफ राजदेव रंजन की शुक्रवार को बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी. राजदेव को सिवान शहर में स्टेशन रोड इलाके में गोली मारी गई थी. रंजन को तुरंत अस्पताल भी ले जाया गया था, लेकिन तब तक उनकी मौत हो गई थी.
 
पुलिस ने आरजेडी के दबंग नेता और पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन के करीबी गैंगस्टर उपेंद्र सिंह को हिरासत में लिया है. सूत्रों के मुताबिक राजदेव रंजन लगातार शहाबुद्दीन के बारे में लिखा करते थे.
 
सिवान के बीजेपी सांसद ओमप्रकाश यादव के सहयोगी श्रीकांत भारती की नवंबर, 2014 में हुई हत्या के सिलसिले में अपनी रिपोर्ट्स में वो शहाबुद्दीन को इस हत्या में शामिल बता रहे थे.