नई दिल्ली. बीजेपी के राज्यसभा सदस्य सुब्रह्मण्यम स्वामी ने केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह से आग्रह किया है कि वह कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की रहस्यमयी मौत की जांच को आगे बढ़ाने के लिए अदालत की निगरानी में एसआईटी के गठन के लिए हस्तक्षेप करें. 
 
गृहमंत्री को लिखे एक पत्र में स्वामी ने दिल्ली पुलिस की तीखी आलोचना की और आरोप लगाया कि वह ऐसे समय में आपराधिक जांच के लिए प्राथमिक कदम उठाने तक से अपना पांव खींच रही है जब उनके शरीर में जहर पाया गया और उनकी अप्राकृतिक मौत हुई. उन्होंने कहा कि यह पुलिस का फर्ज हैं कि वह जांच को तारिख की परिणति तक ले जाएं लेकिन अभी तक जांच आरोपपत्र दाखिल करने के चरण तक भी नही पहुंची है. 
 
उन्होंने 12 मई के अपने पत्र में लिखा, ‘‘अमेरिका की एफबीआई को भी जहर की प्रकृति निर्धारित करने के काम में लगाया गया. एफबीआई जहर का नाम बताने में सक्षम रही जो उनके शरीर में पाया गया.’’ स्वामी ने कहा कि अगस्त 2015 से आज तक दिल्ली पुलिस आपराधिक जांच प्रक्रिया के लिए अनिवार्य प्राथमिक कदम से भी अपने पांव खींच रही है.
 
सुनंदा यहां जनवरी 2014 में एक पांच सितारा होटल में अपने कमरे में मृत पाई गई थीं. उससे एक दिन पहले ट्विटर पर थरूर के एक कथित प्रेम प्रकरण पर उसका पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार से झगड़ा हुआ था.