नई दिल्ली. खुफिया एजेंसियों ने ताजमहल पर आतंकी खतरा बताया है. खुफिया एजेंसी ने दक्षिणी गेट से पर्यटकों का प्रवेश बंद करने की सिफारिश की है, वहीं ताज की दीवार से सटे ताजगंज में हुए निर्माणों पर भी सवाल खड़ा किया है. आईबी के इनपुट पर ही दक्षिणी गेट पर निकास के लिए खुली रहने वाली खिड़की बंद की गई है और अब गेट से प्रवेश बंद करने की तैयारी है.
 
केंद्र सरकार की खुफिया एजेंसियों ने आतंकी खतरे के मद्देनजर ताज की सुरक्षा व्यवस्था की समीक्षा में यह माना कि दक्षिणी गेट की दीवार से सटाकर दर्जनों निर्माण हैं जहां से ताज के अंदर प्रवेश किया जा सकता है, वहीं दक्षिणी गेट के बाहर सकरी गली और भीड़भाड़ खतरे का सबब बन सकती है. इसी वजह से ताजमहल के ताजगंज की ओर बने दक्षिणी गेट से पर्यटकों के प्रवेश को सुरक्षा कारणों से बंद करने की तैयारी की जा रही है. यही नहीं, रात में ताज के तीनों गेट अब सील किए जा रहे हैं. 
 
बता दें कि पूरे देश में ताजमहल ही एकमात्र ऐसा स्मारक है, जहां पर्यटकों के प्रवेश के लिए तीन रास्ते हैं. फतेहपुर सीकरी में प्रवेश के लिए दो गेट हैं. बाकी पूरे देश के प्रमुख स्मारकों में सुरक्षा के लिहाज से सिंगल प्वाइंट एंट्री है.