पटना. बिहार के गया रोड में आदित्य नाम के छात्र की हत्या के मामले में आरोपी जेडीयू एमएलसी मनोरमा देवी के बेटे रॉकी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है. रॉकी ने अपना गुनाह कबूल करते हुए कहा है कि आदित्य को गोली उसने ही मारी थी. घटना के छह दिन बाद शुक्रवार को पुलिस रिमांड के दौरान पूछताछ में आरोपी ने अपना गुनाह माना.
 
वहीं एफएलसी की रिपोर्ट भी सामने आ गई है. रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हो गई है कि आदित्य के सिर में मिली गोली रॉकी की पिस्टल से ही निकली थी. आदित्य के सिर में मिली गोली और रॉकी के पिस्टल की जांच के लिए जर्मनी से मंगाई गई फायर आर्म फिंगर प्रिंटिंग मशीन की मदद ली गई थी. जिसमें यह साबित हो गया कि आदित्य के सिर में रॉकी की पिस्टल से ही गोली चलाई गई थी.
 
एफएलसी रिपोर्ट आने के बाद दिल्ली पुलिस ने रॉकी यादव के हथियार का लाइसेंस रद्द करने का फैसला किया है.  पुलिस के मुताबिक पूछताछ में रॉकी ने माना है कि उससे गलती हुई है. दूसरी ओर घटना के वक्त रॉकी की गाड़ी में मौजूद तीसरे शख्स टोनी यादव को पुलिस अब तक गिरफ्तार नहीं कर पाई है.