पटना. बिहार के सिवान जिले में पत्रकार हत्या मामले में पुलिस ने चार संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया है. चारों से पूछताछ की जा रही है. हिन्दी अखबार हिन्दुस्तान के ब्यूरो चीफ राजदेव रंजन की शुक्रवार को बाइक सवार बदमाशों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी.
 
राजदेव को सिवान शहर में स्टेशन रोड इलाके में गोली मारी गई थी. रंजन को तुरंत अस्पताल भी ले जाया गया था, लेकिन तब तक उनकी मौत हो गई थी.
 
पिछले शनिवार को गया में जेडीयू एमएलसी मनोरमा देवी के बेटे रॉकी यादव ने गाड़ी को साइड न देने की वजह से एक व्यापारी के बेटे आदित्य सचदेवा को चलती कार में गोली मार दी थी जिससे आदित्य की मौत हो गई थी.
 
बिहार में बढ़ रहे अपराध को लेकर जहां विपक्षी दल जंगलराज की वापसी का नारा दे रहे हैं वहीं सरकार के सीएम नीतीश कुमार अपराधियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई का भरोसा दे रहे हैं. 
 
बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने बिहार के अपराध को मीडिया में कवरेज पर भी सवाल उठाया था और कहा था कि दूसरे राज्यों में जब बड़े-बड़े अपराध होते हैं तो मीडिया वहां जंगलराज नहीं कहता लेकिन बिहार के लिए जंगलराज कहता है.
 
झारखंड में भी पत्रकार की हत्या
 
झारखंड के चतरा जिले के देवरिया में एक न्यूज चैनल के 35 वर्षीय पत्रकार अखिलेश प्रताप सिंह की गुरुवार रात को अज्ञात लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी. गुरुवार रात गांव को पंचायत सचिवालय के निकट हमला किया गया था. अखिलेश की हत्या के विरोध में शुक्रवार को चतरा नगर बंद रहा. मुख्यमंत्री रघुवर दास ने निंदा की. उन्होंने पुलिस महानिदेशक डी के पांडेय से कहा कि वे हमलावरों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करें.