नई दिल्ली. कुछ ही दिनों में अमरनाथ यात्रा शुरू होने वाली है. लेकिन इस बार इस यात्रा में आतंकी खतरा मंडराता दिख रहा है. सूत्रों के हवाले से खबर आ रही है कि भारत में सीमा पार जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर के करीब 12 से 15 आतंकियों ने घुसपैठ की है.
 
महीने भर में इस तरह की घुसपैठ की यह 45वीं घटना है. सूचना मिलने के बाद से सुरक्षा व्यवस्था और भी ज्यादा कड़ी कर दी गई है. सेना की विशेष टुकड़ी सीमा पर भेज दी गई है. आतंकियों की इस घुसपैठ से 2 जुलाई से शुरू होने वाली अमरनाथ यात्रा पर खतरा मंडरा रहा है.
 
बीएसएफ ने के आईजी दिनेश उपाध्याय ने जानकारी दी है कि आतंकी यात्रियों को निशाना बना सकते हैं. इसलिए यात्रा के दौरान सुरक्षा व्यवस्था को ज्यादा कड़ाई से लागू किया जा रहा है. कई बीएसएफ के जवान सीमा पर निगरानी बनाए हुए हैं.
 
बता दें कि जम्मू एवं कश्मीर में स्थित पवित्र अमरनाथ गुफा के लिए वार्षिक यात्रा दो जुलाई को शुरू होगी और यह 24 अगस्त को संपन्न होगी. और अबतक 143,462 लोगों ने यात्रा के लिए पंजीकरण करा लिया है.