नई दिल्ली. दक्षिण पश्चिम मानसून केरल के रास्ते देश में इस महीने के अंत तक आ सकता है. आमतौर पर 1 जून को आने वाला मानसून इस बार कुछ दिन पहले ही आने का अनुमान मौसम की जानकारी देने वाली निजी कंपनी स्काईमेट जता रही है. यह मानसून जून से सितंबर तक के लिए सक्रिय रहता है.
 
स्काईमेट के मुताबिक मई 18 और मई 20 के बीच मानसून अंडमान और निकोबार तक पहुंच जाएगा. उसके बाद ही मानसून केरल में प्रवेश करेगा. इसी बीच भारत के नार्थईस्ट इलाकों पर भी मानसून छाने की उम्मीद है.