नई दिल्ली. सर्विल सर्विसेज परिक्षा 2015 का फाइनल रिजल्ट मंगलवार को घोषित हो गया है. इस बार दिल्ली की अभ्यर्थी टीना डाबी ने पूरे देश में टॉपर रहीं. वहीं दूसरे नम्बर पर जम्मू-कश्मीर के अतहर आमिर उल शफी खान रहे. जसमीत सिंह संधू को तीसरा स्थान मिला. इस परीक्षा में कुल 1164 कैंडिडेट सफल हुए हैं.
 
परिणाम घोषित होने के बाद से जहां सभी सफल होने वाले परीक्षार्थियों के परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई है, तो वहीं यह कई परिक्षार्थियों के लिए प्रेरणा भी बन गए हैं. इंडिया न्यूज़ को दिए अपने इंटरव्यू में कुछ सफल परीक्षार्थियों ने अपनी सफलता की कहानी बताई है.
 
परीक्षा में 27 रैंक हासिल करने वाले पुलकित गर्ग ने इंडिया न्यूज़ को दिए अपने इंटरव्यू में बताया है कि देश को एक आईएएस ही आगे बढ़ा सकता है. उन्होंने कहा, ‘वह देश को आगे बढ़ाना चाहते हैं, देश को विकास के पथ पर बढ़ाना चाहता हूं. इसके लिए आईएएस ही एक ऐसा जरिया है जो मुझे ये काम करने का मौका देता है’. उन्होंने कहा कि इसके लिए बहुत ज्यादा मेहनत करनी पड़ी है.
 
346 वीं रैंक हासिल करने वाली अंशू यादव ने अपनी सफलता की कहानी बताते हुए कहा है कि जब रिजल्ट आया तब उन्होंने सबसे पहले अपने पापा को इसकी खबर दी. उन्होंने कहा है कि कोचिंग के अलावा भी खुद से पढ़ना बहुत जरूरी नहीं है. एक टाइम टेबल बनाकर उसके अनुसार पढ़ना चाहिए.
 
बता दें कि दिसम्बर 2015 मेंस एग्जाम के बाद मार्च और मई में इंटरव्यू और पर्सनालिटी टेस्ट हुआ था जिसके बाद अपॉइंटमेंट के लिए आज फाइनल लिस्ट जारी की गई. सभी चयनित उम्मीदवारों को उनके मेरिट के हिसाब से इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विसेज, इंडियन फॉरेन सर्विसेज, इंडियन पुलिस सर्विसेज और सेंट्रल सर्विसेज के ग्रुप A और ग्रुप B में नियुक्ति दी जायेगी.