नई दिल्ली. राज्यसभा सदस्यों ने मंगलवार को ‘पेड न्यूज’ पर चिंता जताई और इस मुद्दे को सुव्यवस्थित बहस के लिए उठाने का फैसला किया है. भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता विजय गोयल ने शून्य काल में यह मुद्दा उठाया. उन्होंने कहा कि पेड न्यूज से मीडिया की विश्वसनीयता प्रभावित हुई है.
 
कांग्रेस नेता आनंद शर्मा, जनता दल (युनाइटेड) के नेता शरद यादव और के.सी. त्यागी और माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के नेता सीताराम येचुरी सहित विभिन्न दलों के नेताओं ने दलगत भावना से ऊपर उठकर उनका समर्थन किया.
 
सदन के नेता अरुण जेटली ने कहा कि इस मुद्दे पर सुव्यवस्थित बहस की जानी चाहिए. वित्तमंत्री ने कहा कि संसद के वर्तमान सत्र या आगामी सत्र में इस मुद्दे पर चर्चा के लिए समय तय किया जाना चाहिए. जेटली ने पेड न्यूज को ‘मतिभ्रष्ट’ कहते हुए कहा कि सभी सदस्य मीडिया की स्वतंत्रता के प्रति बचनबद्ध हैं.
 
जेटली ने कहा, ”विज्ञापन सभी का अधिकार है, लेकिन जब सरकार अत्यधिक विज्ञापन शुरू कर देती है, तब अत्यधिक विज्ञापन और रिश्वत में फर्क कहां रह जाता है.”