नई दिल्ली. लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन ने संसद में सांसदों के अपशब्दों को लेकर कड़ी आपत्ति जताई है. इसके अलावा उन्होंने नाराजगी जताते हुए कहा कि सदस्यों को बोलना सिखाने के लिए उनकी क्लास ले लूं क्या? सुमित्रा महाजन ने यह भी कहा कि अब इसके लिए सदस्य खुद रोक लगाएं और भाषा की मर्यादा का ख्याल रखें. महाजन ने बेहद खिन्नता से कहा कि पहले सदस्य ऐसी बात बोलते हैं, तभी तो मीडिया में ऐसी खबरें सुर्खियां बनती हैं. 
 
दरअसल, लोकसभा में सोमवार को शून्यकाल के दौरान बीजेपी सांसद संजय जायसवाल ने भारतीय चिकित्सा परिषद का मुद्दा उठाते समय संस्थान के खिलाफ अपशब्दों का इस्तेमाल किया था. जिससे लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन नाराज हो गईं. 
 
अपशब्द के इस्तेमाल से दुखी महाजन
 
इसके अलावा संसदीय कार्य मंत्री वेंकैया नायडू ने सलाह दी है कि सदस्य द्वारा इस्तेमाल किए गए शब्द विशेष को कार्यवाही से निकाल दिया गया है, ताकि सांसद के शब्द अखबारों की सुर्खियां ना बने. इस पर आहत अध्यक्ष ने कहा कि मुझसे ज्यादा आप भी जानते हैं कि अपशब्द क्या है और क्या नहीं. रिकॉर्ड में से तो शब्द निकल सकते हैं, लेकिन किसी सदस्य के मुंह से गलत शब्दों का निकलना कैसे रोक सकते हैं.