चेन्नई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिना नाम लिए ही अगस्ता वेस्टलैंड मामले में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी पर निशाना साधा है. मोदी ने कहा कि इन्हें हमने नहीं इटली के लोगों ने गुनहगार बनाया है. मोदी ने यह बात शुक्रवार को तमिलनाडु और केरल में अपनी चुनावी रैलियों में कही.
 
मोदी ने अगस्ता घूसकांड मामले में कांग्रेस पार्टी का नाम लिए बिना ही कांग्रेस को घेरते हुए सवाल किया है कि अगर इटली की अदालत ने कहा है कि भारत में पिछली सरकार के लोगों ने पैसे खाये हैं तो आप हमें क्यों परेशान कर रहे हो? क्या आपका कोई रिश्तेदार इटली में रहता है. क्या मेरा कोई रिश्तेदार इटली में रहता है, मैंने इटली देखा नहीं है. मैं इटली नहीं गया हूं. न ही मैंने इटली में किसी से मुलाकात की है. अगर इटली के लोगों ने उन पर आरोप लगाया है तो हम क्या करें?
 
क्या है मामला?
 
यूपीए-1 सरकार के वक्त 2010 में अगस्ता वेस्टलैंड से वीवीआईपी के लिए 12 हेलीकॉप्टरों की खरीद की डील हुई थी. डील के तहत मिले 3 हेलिकॉप्टर आज भी दिल्ली के पालम एयरबेस पर खड़े हैं. इन्हें इस्तेमाल में नहीं लाया गया. डील 3,600 करोड़ रुपए की थी. टोटल डील का 10% हिस्सा रिश्वत में देने की बात सामने आई थी.
 
इसके बाद यूपीए सरकार ने फरवरी 2010 में डील रद्द कर दी थी. तब एयरफोर्स चीफ रहे एसपी त्यागी समेत 13 लोगों पर केस दर्ज किया गया था. जिस मीटिंग में हेलिकॉप्टर की कीमत तय की गई थी, उसमें यूपीए सरकार के कुछ मंत्री भी मौजूद थे. इस वजह से कांग्रेस पर भी सवाल उठे थे.