नई दिल्ली. कांग्रेस ने केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ आक्रामक रुख अपना लिया है. केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ कांग्रेस आज प्रदर्शन करने वाली है. कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी के नेतृत्व में पार्टी आज जंतर मंतर से संसद तक पदयात्रा करके विरोध प्रदर्शन करेगी. बता दें कि इस प्रदर्शन को लोकतंत्र बचाओ मार्च नाम दिया गया है. 
 
संसद में शुक्रवार को भी में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर एक बार फिर अगस्ता वेस्टलैंड मामले पर बयान देंगे. जबकि उससे पहले इस मामले पर बीजेपी नेता अनुराग ठाकुर, किरीट सोमैया, निशीकांत ठाकुर, कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधि‍या और टीएमसी के सौगत रॉय के ध्यानाकर्षण प्रस्ताव पर बहस होगी. बता दें कि पर्रिकर ने पहले भी इस मामले में बयान दिया था, जिसके बाद संसद में काफी हंगामा हुआ था. 
 
कांग्रेस की लोकतंत्र बचाओ रैली सुबह साढ़े नौ बजे जंतर-मंतर पर शुरू होगी, जिसके बाद सभी संसद भवन तक मार्च करेंगे. संसद सत्र जारी रहने के कारण संसद भवन के आसपास के इलाके में धारा 144 लागू है, इसलिए बताया जा रहा है कि सुरक्षाकर्मी मार्च को पार्लियामेंट स्ट्रीट पर ही रोक लेंगे.
 
बता दें कि जहां कांग्रेस केंद्र सरकार के विरोध में पदयात्रा कर रही है, तो वहीं बीजेपी दूसरी तरफ बीजेपी अगस्ता डील पर आज कांग्रेस के खिलाफ संसद परिसर में प्रदर्शन करने वाली है.