नई दिल्ली. अगस्ता वेस्टलैंड सौदे को लेकर राज्यसभा में रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर के दिए गए बयान की पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को तारीफ की. उन्होंने अपने ट्वीट में कहा कि रक्षा मंत्री पर्रिकर का यह भाषण उनके सभी भाषणों में से एक बेहतर भाषण है. यह अच्छे संसदीय परंपरा को प्रदर्शित करता है.
 
आगे उन्होंने लिखा है कि रक्षा मंत्री सियासत से ऊपर उठकर सौदे से संबंधित तथ्यों को सदन के सामने रखा. पीएम मोदी ने उनके भाषण का लिंक शेयर करते हुए लोगों को इसे सुनने की अपील की है.
 
 
बता दें कि विवादास्पद अगस्ता वेस्टलैंड सौदे को लेकर पूर्ववर्ती यूपीए सरकार पर निशाना साधते हुए रक्षा मंत्री मनोहर पर्रिकर ने बुधवार को कहा था कि मौजूदा जांच उन पर केन्द्रित होगी, जिनका नाम इटली की अदालत के फैसले में आया है. साथ ही उन्होंने यह सुझाव दिया कि अदृश्य हाथ की भूमिका ने पूर्व में इस मामले की समुचित जांच को रोका. बारह वीवीआईपी हेलीकाप्टरों के लिए 3600 करोड़ रूपये के इस सौदे के बारे में रक्षा मंत्री ने कहा कि यूपीए अगस्ता वेस्टलैंड के हेलीकाप्टरों को खरीदने के लिए लगातार जोर डाल रहा था.
 
उन्होंने इस मामले का तिथिवार ब्यौरा देते हुए कहा कि सीबीआई ने 12 मार्च 2013 को एक मामला दर्ज किया था किन्तु उसने नौ माह तक प्राथमिकी की प्रति को प्रवर्तन निदेशालय को नहीं दिया. उसके बाद ईडी ने जुलाई तक प्राथमिकी पर कोई कार्रवाई नहीं की. पर्रिकर ने कहा, ऐसा प्रतीत होता है कि कोई अदृश्य हाथ सीबीआई एवं ईडी की कार्रवाई या निष्क्रियता का मार्गदर्शन कर रहा था.