मुंबई. रेलवे की टिकट बुक कराने वाली साइट आईआरसीटीसी की वेबसाइटड हैक होने की खबर है. अगर ऐसा होता है तो करीब 1 करोड़ से भी ज्यादा कस्टमर्स का पर्सनल डेटा चोरी हो सकता है. इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन(आईआरसीटीसी) भारत की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स वेबसाइट है.
 
महाराष्ट्र सरकार ने इसे लेकर अलर्ट किया था, जिसके बाद मुंबई पुलिस भी सतर्क हो गई है. राज्य के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी (होम) केपी बख्शी ने बुधवार को जानकारी देते हुए कहा है कि आईआरसीटीसी की वेबसाइट हैक हो गई है. आईआरसीटीसी और रेलवे बोर्ड को अलर्ट जारी किया गया था. सरकार ने कहा है कि हैकर्स की पहचान कर ली गई है.
 
देश की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स वेबसाइट पर हर दिन लाखों रुपयों का लेनदेन होता है. वेबसाइट पर कस्टमर्स के पैन कॉर्ड, आधार जैसी जानकारियां होती हैं. सीनियर रेलवे अधिकारी का कहना है कि चोरी किए गए डेटा से कोई भी फर्जी दस्तावेज बना सकता है. 
 
आईआरसीटीसी ने खबर को बताया गलत
 
आईआरसीटीसी ने वेबसाइट हैक होने की खबरों को खारिज किया है. वेबसाइट के सीएमडी एके मनोचा ने कहा, ‘हमारी वेबसाइट हैक नहीं हुई है’. उन्होंने कहा है कि डेटा चोरी को लेकर जो बात हो रही है, उस बारे में जांच के बाद ही कुछ कह पाएंगे. उन्होंने कहा, ‘जिस तरह की जानकारी चोरी होने की बात कही जा रही है वह पीएनआर स्टेटस चेक से भी जुटाई जा सकती है’. 
 
बता दें कि इस वेबसाइट पर हर दिन 3-4 करोड़ लोग पीएनआर स्टेटस चेक करते हैं. समझा जा रहा है कि रेलवे पैसेंजर्स के पर्सनल डेटा को ऑनलाइन मार्केटिंग कंपनियों को भेजा जा रहा है. इसके बाद ही रेलवे बोर्ड ने बुधवार को मीटिंग बुलाकर एक जांच कमेटी बना दी है.