नई दिल्ली. अगस्ता वेस्टलैंड मामले में पूर्व वायुसेना प्रमुख एसपी त्यागी से सीबीआई की पूछताछ जारी है. त्यागी सुबह करीब 10 बजे पूछताछ के लिए सीबीआई दफ्तर पहुंचे. सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक त्यागी से सीबीआई ने एक लाख यूरो रिश्वत के तौर पर लेने के संबंध में पूछताछ की. साथ ही 2005 और 2006 में डील को लेकर बिचौलियों हश्का और कार्लो से मुलाकात को लेकर भी सवाल किए गए. वहीं दूसरी ओर मामले को लेकर सोमवार को राज्यसभा में भी जमकर हंगामा हुआ. सीबीआई को मिलान की अदालत के आदेश की प्रति मिली जिसके आधार पर उसने त्यागी और गुजरात से पूछताछ करने के लिए नई प्रश्नावली तैयार की है. आदेश में कई स्थानों पर त्यागी का नाम आया है.
 
एसपी त्यागी पर आरोप 
वायुसेना के पूर्व प्रमुख त्यागी के खिलाफ आरोप था कि उन्होंने हेलीकॉप्टर की उड़ान की ऊंचाई को 6000 मीटर से घटाकर 4500 मीटर कर दिया था. जिसकी वजह से अगस्तावेस्टलैंड बोली लगाने में शामिल की जा सकी थी. हालांकि यह फैसला एसपीजी और प्रधानमंत्री कार्यालय के अधिकारियों के साथ कथित तौर पर विचार विमर्श करके लिया गया था. जिसमें तत्कालीन राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार एम के नारायणन भी शामिल थे. सीबीआई ने आरोप लगाया है कि हेलीकॉप्टर की सर्विस सीलिंग (वह अधिकतम उंचाई, जिस पर कोई हेलीकॉप्टर सामान्य तौर पर काम कर सकता है). कम करने से ब्रिटेन की कंपनी निविदा की दौड़ में शामिल हो सकी. इसके अभाव में इस कंपनी के हेलीकॉप्टर निविदा जमा कराने के योग्य नहीं होते.
 
CBI  पहले भी कर चुकी है पूछताछ 
बता दें कि शनिवार को सीबीआई पूर्व उप-वायु सेना प्रमुख जेएस गुजराल से पूछताछ कर चुकी है. इस पूछताछ में उनका रवैया सहयोगात्मक रहा. गुजराल और त्यागी दोनों से 2013 में विस्तार से पूछताछ की गई थी लेकिन फिर से पूछताछ की जरूरत एक इतालवी कोर्ट के सात अप्रैल के आदेश के बाद पड़ी. बता दें कि सीबीआई ने मामले में त्यागी और 13 अन्य लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. इसमें त्यागी के रिश्ते के भाई और यूरोपीय बिचौलिये भी शामिल हैं.