पटना. जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) छात्रसंघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार की रविवार को सभा में हंगामा हो गया. कन्हैया ने जैसे ही भाषण देना शुरू किया  कुछ लोगों ने उन्हें काले झंडे दिखाए और भारत माता की जय के नारे भी लगे. इस बीच कन्हैया के समर्थकों और विरोधियों के बीच मारपीट हो गई.  पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को हिरासत में ले लिया है. 

 
‘मुझे ये झंड़े भगवा रंग के दिखे’
इस घटना पर प्रतिक्रिया देते हुए कन्हैया ने कहा कि कोई काले झंड़े दिखाए या जूका फेंके, उनपर कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. युवकों को दिखाना ही था तो तिरंगा दिखाते. वे काला झंड़ा दिखा रहे थे, लेकिन मुझे भगवा दिखाई दे रहा था. मुझे कलर ब्लाइंडनेस है.
 
क्या था मामला?
बता दें कि पटना के श्रीकृष्ण मेमोरियल हॉल में रविवार को कन्हैया कुमार का एक कार्यक्रम था. कार्यक्रम में कन्हैया ने जैसे ही पीएम नरेन्द्र मोदी के खिलाफ बोलना शुरू किया कि तभी कुछ लोगें ने काले झंडे दिखाना शुरू कर दिया. इस पर कन्हैया के समर्थकों ने उन युवकों पर हमला बोल दिया. उसके बाद कन्हैया ने सबको शांत कराया.

 
कन्हैया कुमार का कार्यक्रम
कन्हैया कुमार के कार्यक्रम के मुताबिक इस दौरान वो कई बड़े नेताओं से मुलाकात करेंगे. कन्हैया ने आरजेड़ी प्रमुख लालू यादव से भी मुलाकात की. इस दौरान वो बीजेपी नेता और पटना साहिब से सांसद शत्रुघ्न सिन्हा से भी मुलाकात कर सकते हैं. शत्रुघ्न सिंहा के अलावा वो पटना में कांग्रेस, सपा और बसपा नेताओं से भी मिलेंगे. इसके अलावा रविवार को कन्हैया राजधानी के एसके मेमोरियल हॉल में पब्लिक मीटिंग को संबोधित करेंगे. इस मीटिंग में आजादी के मुद्दे पर बात की जाएगी.
 
लगातार विरोध झेल रहे हैं कन्हैया
देशद्रोह के आरोप में अंतरिम जमानत पर बाहर आए कन्हैया कुमार देश के कई शहरों में राजनीतिक यात्राएं कर रहे हैं. लगभग सभी यात्राओं में उन्हें लोगों का विरोध झेलना पड़ रहा है. इसके पहले नागपुर, हैदराबाद, दिल्ली, पुणे और मुंबई में भी उनका विरोध किया गया है.