नई दिल्ली. बीजेपी और उनके सहयोगी संगठनों के धुर विरोधी कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने उस वक्त सभी चौंका दिया जब वह अचानक विश्व हिन्दू परिषद (वीएचपी) के आरके पुरम स्थित मुख्यालय पहुंच गये. जिससे भगवा खेमे में हलचल मच गई. इस मामले में संघ ने अपने ट्विटर अकाउंट में जानकारी दी है. संघ ने अपने ट्विटर वॉल पर लिखा कि दिग्विजय सिंह अचानक वीएचपी कार्यालय पहुंचे जहां उन्हें श्री चंपत राय ने स्व अशोक सिंघल की जीवनी प्रदान की.
 
दिग्विजय सिंह रविवार को करीब 11 बजे अचानक से दिल्ली के आरके पुरम स्थित विहिप मुख्यालय पहुंचे. वहां उन्होंने मौजूद विहिप के अंतराष्ट्रीय महामंत्री चंपत राय से मुलाकात की. इस बीच दिग्गी ने कार्यालय में  हालांकि वीएचपी अधिकारियों का कहना है कि दिग्गी के मुख्यालय आने के सियासी मायने नहीं है. लेकिन उनका विहिप मुख्यालय पहुंचना ही भगवाधारियों के लिए अचंभित करने वाला क्षण था.
 
दबी जुबान से ही सही विहिप नेताओं की चर्चा में दिग्गी के मुख्यालय आगमन को लेकर कयास निकालनें का दौर जारी है. बता दें कि वीएचपी के अंतराष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया के सहयोगी शिबू जी के साथ दिग्गी के पुराने रिश्ते हैं. वे उनके साथ ही मुख्यालय पहुंचे थे और मुख्यालय में उपस्थित लोगों से उन्होंने मेल मुलाकात की.