नई दिल्ली. योगेंद्र यादव के संगठन स्वराज अभियान ने सुप्रीम कोर्ट में 11 राज्यों में पड़ रहे सूखे पर केंद्र सरकार के आंकड़ों पर सवाल उठाए हैं. मंगलवार को याचिकाकर्ता प्रशांत भूषण ने कोर्ट में सुनवाई के दौरान सरकार के आंकड़ों को गलत बताते हुए कहा है कि सरकार ने सूखे से प्रभावित लोगों के जो आंकड़े बताएं हैं उससे कहीं ज्यादा लोग सूखे की समस्या का सामना कर रहे हैं.
 
भूषण ने कहा, ‘सूखा प्रभावित राज्यों में 40 से 45 फीसदी लोग सूखे से प्रभावित हैं. यानी करीब 50 करोड़ लोग सूखे से प्रभावित हैं.’ सरकार ने पिछली बार सुनवाई में कोर्ट को बताया था की 10 राज्यों के 256 जिलों में करीब 33 करोड़ लोग सूखे से प्रभावित हैं.
 
सरकारी आंकड़े
 
सरकारी आंकड़ों के मुताबिक बिहार के 15 जिले आंशिक रूप से सूखे से प्रभावित हैं. गुजरात के 15 जिले सूखे से आंशिक रूप से और 3 जिले थोड़े प्रभावित हैं. जबकि हरियाणा के 8 जि‍ले आंश‍िक रूप से और 4 जिले थोड़े प्रभावित हैं.