नई दिल्ली. भारतीय विदेश मंत्रालय ने बिजनेसमैन विजय माल्या का पासपोर्ट रद्द कर दिया है. मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट कर रविवार सुबह यह जानकारी दी. उन्होंने लिखा, ‘विजय माल्या से मिले जवाबों पर गौर करने के बाद, विदेश मंत्रालय ने सेक्शन 10 (3) (C) और (H) के तहत उनका पासपोर्ट रद्द कर दिया है’.
 
प्रवर्तन निदेशालय ने माल्या का पासपोर्ट रद्द करने की मांग की थी. ईडी का कहना है कि माल्या तीन नोटिस जारी होने के बाद भी पेश नहीं हुए. जिससे जांच को आगे बढ़ाने में मुश्किलें आ रही हैं. माल्या के ऊपर बैंकों का 9000 करोड़ रुपए से अधिक का कर्ज है. वह अभी भारत से बाहर लंदन में हैं. 
 
बता दें कि ईडी की सलाह पर विदेश मंत्रालय ने 15 अप्रैल को माल्या का पासपोर्ट सस्पेंड कर दिया था. विदेश मंत्रालय ने नोटिस जारी कर माल्या से पूछा था कि पासपोर्ट क्यों न रद्द किया जाए? जवाब देने के लिए माल्या को 22 अप्रैल तक का समय दिया गया था. उनके जवाब के आधार पर मंत्रालय ने उनका पासपोर्ट रद्द करने का फैसला किया गया.