नई दिल्ली: रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने अपनी ही पार्टी बीजेपी के उस दावे को खारिज कर दिया है जिसमें यह कहा गया था कि भारत और फ्रांस के बीच राफेल लड़ाकू विमान खरीद सौदा हो गया है. पर्रिकर ने इस बयान के उलट कहा है कि राफेल डील अभी फाइनल नहीं हुई है. सौदा अभी अपने ‘एडवांस्ड स्टेज’ में है और हमारी कोशिश जल्द इसे अंतिम रूप देने की है. उन्होंने हल्के फुल्के अंदाज में रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने कहा बीजेपी का ट्वीट इस संबंध में सिर्फ इंडिकेट कर रहा है. जिस पर निश्चित होने के बाद ही पत्रकारों को स्टोरी लिखनी चाहिए.
 
काफी अग्रिम चरण में है डील: रक्षामंत्री
पर्रिकर ने कहा कि मैं आपको केवल इतना बता सकता हूं कि सौदा काफी अग्रिम चरण में है और हम इसे जल्द ही पूरा करना चाहते हैं, लेकिन मैं सौदे पर हस्ताक्षर होने से पहले या कम से कम सौदे को मंजूरी के लिए कैबिनेट के पास भेजे जाने से पहले यह नहीं कह सकता कि सौदा हो चुका है.
 
‘मई के आखिर डील पूरी होने की संभावना’
उन्होंने यह भी बताया कि यह डील मई के आखिर तक फाइनल होने की संभावना है. भारत सरकार फ्रांस के साथ 36 राफेल विमानों की कीमत को लेकर बातचीत कर रही है. उन्होंने कहा कि 36 विमानों की कीमत 65 हजार करोड़ रुपये है लेकिन भारत सरकार इन्हें 59 हजार करोड़ रुपये में खरीदने की कोशिश कर रही है. इस डील की घोषणा बीते साल अप्रैल में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी.
 
BJP ने किया था ट्वीट
बता दें कि इससे पहले बुधवार को बीजेपी ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर एक ग्राफिक शेयर किया था. इसमें लिखा था ‘फ्रांस से 12 अरब डॉलर (80,000 करोड़ रूपए) में 36 अत्याधुनिक राफेल विमान खरीदने के सौदे पर पुन: सौदेबाजी हुई और सौदा 8.8 अरब डॉलर (लगभग 59,000 करोड़ रूपए) में तय हुआ. पार्टी ने ट्वीट किया कि सरकार ने जनता का धन ‘बचाया’ है और सौदे के कारण ‘तकनीकी ज्ञान’ मिला है साथ ही ‘सीमा की सुरक्षा के लिए वायुसेना को मजबूती मिली है.