दिल्ली. ग्रेटर नोएडा अथॉरिटी ने फ्लैट निर्माण करने वाली कंपनी सुपरटेक को नोटिस जारी कर दिया है. अथॉरिटी ने नियमों के उल्लंघन कर बिल्डिंग बनाने के मामले में यह कदम उठाते हुए 1,009 फ्लैट और विलाज को सील करने का आदेश दिया है. बता दें कि सुपरटेक ने बिना इजाजत के हजार से ज्यादा फ्लैट बना लिए थे.
 
अथॉरिटी ने कंपनी को ग्रेटर नोएडा के सेक्टर ओमिक्रॉन-1 स्थित जार कॉम्पलैक्स में बन रहे फ्लैटों को लेकर यह आदेश दिया है. अथॉरिटी ने सभी फ्लैट्स को सील करने का आदेश दिया है. उनमें से आधे बिक भी चुके हैं. इनमें 105 विला भी शामिल हैं.
 
अथॉरिटी का कहना है कि कंपनी ने जार कॉम्पलेक्स में सिर्फ 844 हाउजिंग यूनिट्स तैयार करने की ही अनुमति ली थी. लेकिन उसने नियमों का उल्लंघन करते हुए 15 रेजिडेंशियल टावर खड़े कर लिए जिनमें कुल 1853 युनिट्स हैं. सुपरटेक का यह प्रोजेक्ट 20 एकड़ की जमीन में फैला हुआ है. सुपरटेक ने सफाई देते हुए कहा है कि उसने किसी नियम का उल्लंघन नहीं किया है.