नई दिल्ली. कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी शनिवार को पंजाब में पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं के साथ बैठक करने के लिए मोहाली जा रहे हैं. राहुल मीटिंग में राज्य में आगामी विधानसभा चुनाव के मुद्दों पर चर्चा करेंगे. वह राज्य के कुल 2500 पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे. 
 
बता दें कि साल 2014 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उसके बाद बिहार चुनाव में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के लिए चुनावी रणनीति बनाने वाले प्रशांत कुमार इस बार राहुल गांधी के लिए पंजाब चुनाव की रणनीति तैयार कर रहे हैं.
 
प्रशांत ने राहुल के मिशन पंजाब के लिए नया कैंपेन तैयार किया है. प्रशांत ने सबसे पहले राहुल का दरबारी कल्चर खत्म करते हुए उन्हें जमीनी स्तर पर लोगों से बात करने की सलाह दी है. कॉफी विद कैप्टन नाम से एक प्रोग्राम चलाया जा रहा है जिसमें कैप्टन समाज के उन लोगों से सीधे संवाद करेंगे जो उन्हें यह बताएंगे कि जनता अगली सरकार से क्या चाहती है. ‘पंजाब दा कैप्टन…कैप्टन दा पंजाब’ यह नया नारा भी प्रशांत ने राहुल के मिशन के लिए तैयार किया है. राहुल अपने इस मिशन में छोटी रैलियां करके लोगों से सीधे बातचीत करेंगे और उनकी समस्याएं सुनेंगे.
 
जानकारी है कि प्रशांत किशोर ने इस काम के लिए राहुल गांधी से कोई भी वेतन नहीं ले रहे हैं. बताया जा रहा है कि प्रशांत ने कांग्रेस से एक भी पैसा नहीं लिया है उत्तर प्रदेश और यूपी में काम करने के लिए.