इस्लामाबाद. पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने कहा है कि भारत और पाक के बीच किसी भी समस्या के समाधान के लिए बातचीत ही सही विकल्प है. उन्होंने कहा कि भारत और पाक के बीच बातचीत की प्रक्रिया जारी है. इसे रोका नहीं गया है. दोनों देशों के रिश्तों में सुधार लाने के लिए बातचीत से बेहतर दूसरा कोई विकल्प नहीं है. इससे पहले पाक उच्चायुक्त अब्दुल बासित ने कहा था कि उन्हें ऐसा लगता है कि दोनों देशों के बीच बातचीत की प्रक्रिया रुक गयी है. उन्होंने कहा था कि द्विपक्षीय शांति प्रक्रिया ‘निलंबित’ है.
 
जकारिया ने कहा कि दोनों देशों के विदेश सचिव जल्द ही मुलाकात करेंगे. उन्होंने कहा, ‘प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पिछले साल दिसंबर में हुई पाकिस्तान यात्रा के दौरान फैसला हुआ था कि दोनों विदेश सचिव जल्द मुलाकात करेंगे. उम्मीद जताई गई थी कि दोनों पक्ष विदेश सचिव स्तर की वार्ता के तौर-तरीकों पर काम करेंगे’. 
 
जकारिया ने कहा कि दोनों देशों को आगे के बारे में सोचने की जरूरत है. उन्होंने कहा, ‘हमें आगे के बारे में सोचने की जरूरत है और किसी विकल्प को समाप्त करने के बारे में नहीं सोचना चाहिए. दोनों पक्ष एक-दूसरे के साथ संपर्क में हैं. एक बार तौर-तरीकों पर काम हो जाए उसके बाद सचिव स्तर की वार्ता होगी’.
 
जकारिया ने वार्ता को ही सर्वश्रेष्ठ विकल्प बताते हुए कहा, ‘संवाद सर्वश्रेष्ठ विकल्प है. कूटनीति देशों के बीच बातचीत और साथ काम करने की होती है’.