श्रीनगर. हंदवाड़ा में हिंसक घटना के बाद कश्मीर घाटी के कई इलाकों में इंटरनेट सेवा पर अस्थाई रूप से रोक लगा दी गई है. इतना ही नहीं तनाव का माहौल देखते हुए लोगों की आवाजाही भी रोक दी गई है. जानकारी है कि प्रशासन ने किसी भी तरह के हिंसात्मक प्रदर्शन को रोकने हेतु इंटरनेट संवाओं पर भी प्रतिबंध लगा दिया है. ऐसा इसलिए किया गया है ताकि लोग हंदवाड़ा मामले में इंटरनेट का गलत प्रयोग न कर पाएं.
 
अधिकारियों ने बताया कि मोबाइल इंटरनेट सेवा पर निलंबन एक अस्थाई कदम है और स्थिति सामान्य होते ही सेवा फिर से शुरू कर दी  जाएगी.
 
कई इलाकों में इंटरनेट सेवा ठप्प
सेवा प्रदाता कंपनियां इंटरनेट पर रोक के बारे में फिलहाल कुछ नहीं कह रही हैं. लेकिन खबर है कि कुपवाड़ा, बारामूला, बांदीपोरा तथा गांदेरबल जिलों में गुरुवार सुबह उपभोक्ताओं को मोबाइल इंटरनेट सेवा नहीं मिली. श्रीनगर तथा दक्षिण कश्मीर के बाशिंदों ने भी बताया कि उन्हें सुबह से इंटरनेट सेवा नहीं मिली है.
 
क्या है पूरा मामला
आपको बता दें कि जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा में मंगलवार को इस बात पर जबरदस्त बवाल हुआ था कि एक लड़की के साथ सेना के जवान ने छेड़छाड़ की है. यह खबर फैलने के बाद लोग सेना के बंकर पर पथराव पर उतारू हो गए. सेना ने फायरिंग की. तीन लोगों की मौत हुई. लेकिन अब लड़की एक वीडियो सामने आया है, जिसमें लड़की ने कहा है कि उसके साथ बदसलूकी करने वाला सेना का जवान नहीं था
 
पुलिस फायरिंग में 2 लोगों की मौत
श्रीनगर से करीब 85 किलोमीटर दूर हंदवाड़ा शहर में प्रदर्शन के दौरान पथराव कर रही भीड़ को तितर-बितर करने लिए सेना की ओर से की गई गोलीबारी में मंगलवार को करीब दो लोगों की मौत हो गई.