नई दिल्ली. सरकार ने इंदिरा गांधी राष्ट्रीय कला केंद्र के बोर्ड को भंग कर दिया है. पद्मश्री और वरिष्ठ पत्रकार राम बहादुर राय को इस केंद्र का नया प्रमुख नियुक्त किया गया है. जिसके बाद राय 20 सदस्यीयों के बोर्ड के मुखिया होंगे. इस कला केंद्र को सरकार द्वारा फंड किया जाता रहा है.
 
बता दें पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की याद में इसकी स्थापना हुई थी. 19 मई 1985 को पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी इंदिरा गांधी नेशनल सेंटर फॉर द आर्ट्स (IGNCA) की नींव रखी थी.
 
20 सदस्यीय टीम करेंगे अगुवाई
राम बहादुर राय को चिनमय खान की जगह नियुक्त किया गया है. राय उस 20 सदस्यीय टीम की अगुवाई करेंगे जिसमें सोनल मानसिंह, चंद्रप्रकाश द्विवेदी, नितिन देसाई, के अरविंद राव, रति विनय झा, प्रोफेसर निर्मला शर्मा, हर्ष न्योतिया, पद्म सुब्रमण्यम, सरयू दोषी और प्रसून जोशी शामिल हैं. राष्ट्रीय कला केंद्रीय को कला के क्षेत्र में शोध के लिए एक अहम संसाधन के रूप में देखा जाता है.
 
‘यह एक सामान्य प्रक्रिया है’
वहीं बोर्ड को भंग किए जाने को केन्द्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा ने इसे सामान्य प्रक्रिया बताया है. उनका कहना है कि बदलाव से इनोवेशन का मौका मिलेगा. उन्होंने कहा कि बोर्ड पहली बार भंग नहीं हुआ है. इससे पहले भी पहले भी ऐसा हो चुका है. उन्होंने यह भी कहा कि यह बदलाव उस मकसद को पूरा करेगा, जिसके लिए इस संस्था का गठन हुआ था.