लखनऊ. बाबा भीमराव अंबेडकर की 125वीं जयंती पर बहुजन समाज पार्टी(बीएसपी) की प्रमुख मायावती ने लखनऊ में बड़ी रैली आयोजित की. रैली को संबोधित करते हुए मायावती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर जम कर हमला बोला. मायावती ने कहा कि ये पार्टीयां सिर्फ अंबेडकर के नाम का इस्तेमाल कर रही हैं. अंबेडकर के नाम पर मोदी और राहुल राजनीति कर रहे हैं. दलित वोटों को साधने की सियासत की जा रही है. 
 
मायावती ने बीजेपी और मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि बीजेपी वोट बैंक की राजनीति के लिए सब नाटक कर रही है. उन्होंने कहा कि यूपी चुनाव को लेकर अंबेडकर के नाम पर सियासत तेज हुई है. बीजेपी यूपी में दलित वोट साधना चाहती है लेकिन यूपी में बीजेपी को कोई फायदा नहीं होगा. मायावती ने कहा, ‘राजनीतिक दलों में अंबेडकर जयंती मनाने की होड़ है. राजनीतिक स्वार्थ साधने के लिए सब दिखावा कर रहे हैं. बीजेपी को दलित समाज का वोट मिलने की गलतफहमी है. यूपी में कोई फायदा नहीं होगा. मोदी सरकार के राज में दलितों का भला नहीं हुआ है’. मायावती ने भारत माता की जय बोलने वाले विवाद में कहा है कि भारत माता की जय बोलना जरूरी नहीं है.
 
 
राहुल गांधी और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मायावती ने कहा कि राहुल गांधी ने अंबेडकर की तुलना रोहित वेमुला से की थी. बल्कि उन्हें अंबेडकर की तुलना नेलसन मंडेला से करनी चाहिए थी. कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मायावती ने कहा, ‘विरोधी दल मुझे हमेशा निशाना बनाते रहते हैं. कांग्रेस ने मुझे डीए केस में फंसाया था’.
 
 
मायावती ने अंबेडकर को श्रद्धांजलि देने के लिए लखनऊ में बड़ी रैली का आयोजन किया था. उन्होंने अंबेडकर को नमन करते हुए कहा कि अंबेडकर ने देश में दलितों के उत्थान के लिए अनेक बड़े काम किए हैं. बता दें कि अंबेडकर ने स्वतंत्र भारत के पहले कानून मंत्री भी थे.