श्रीनगर. जम्मू कश्मीर के हंदवाड़ा जिले में प्रदर्शन के दौरान सेना की फायरिंग में दो लोगों की मौत हो गई है. जानकारी है कि पब्लिक इसलिए प्रदर्शन कर रही थी कि सेना के एक जवान ने कथित तौर पर एक लड़की के साथ छेड़छाड़ की थी. 
 
लोगों ने लड़की के साथ हुई बदसलूकी का विरोध करने के लिए सेना के ऊपर पत्थर फेंके थे. जिसकी वजह से आर्मी को फायरिंग करनी पड़ी जिसमें तीन लोगों की मौत हो गई और दो जख्मी हो गए. घटना के बाद अलगाववादियों ने कश्मीर में बंद का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा. 
 
क्या है मामला ?
 
हंदवाड़ा जिले के कुछ लोगों ने मंगलवार को आर्मी के जवान पर लड़की से छेड़छाड़ करने का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया. खबर है कि इन लोगों ने सेना के एक बंकर में आग लगाने की भी कोशिश की. जिसके बाद हालात को काबू करने के लिए आर्मी ने फायरिंग की. घटना में एक 70 साल की महिला की भी मौत की खबर है. 
 
अलगाववादियों ने बंद का ऐलान किया
 
घटना के विरोध में हुर्रियत के कट्टरपंथी धड़े के नेता सैयद अली शाह गिलानी ने बुधवार को कश्मीर बंद रखने को कहा है. आर्मी ने घटना पर अफसोस जाहिर किया है. एक अफसर ने मामले की जांच की बात कही है.
 
महबूबा ने कड़ी सजा की बात कही
 
मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने उधमपुर कमांडर जनरल डीएस हुड्डा से घटना पर फोन पर बात की है. उन्होंने जल्द से जल्द कार्यवाई करने की मांग की है. महबूबा ने घटना की निंदा करते हुए कहा है कि आरोपियों को सख्त सजा दी जाएगी.