नई दिल्ली. देश में भारत माता की जय बोलने पर मचे बवाल के बीच उत्तर प्रदेश के राज्यपाल राम नाईक ने इस पर बयान दिया है. उन्होंने नारे न लगाने वालों की तुलना कौवे से करते हुए कहा है कि देश में भारत मां की जय बोलने वाले कोयल होते हैं. और न बोलने वाले कौवे के समान. इसके अलावा राज्यपाल ने यह भी कहा कि जिसको भारत माता की जय बोलना है वो बोले, जिसे इस पर आपत्ति है वो अपना मुंह बंद रखे.
 
‘जो स्वर सुनने में अच्छे लगे वही बोलें’
राम नाईक ने नारे बोलने वालों की तुलना कोयल से करते हुए कहा कि कोयल कुहू कुहू करती है और उसके स्वर सुनने में अच्छे लगते हैं. वहीं जब कौवा कांव-कांव करता है जिसके स्वर बिलकुल भी अच्छे नहीं लगते हैं. तो जो स्वर सुनने में अच्छे लगते हों, वही बोलने चाहिए और वही देशभक्ति है.
 
आजम खां  पर निशाना
इसके अलावा उन्होंने उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खां पर हमला करते हुए कहा कि उनकी भाषा बहुत खराब है. वह विधान सभा में 60 फीसदी असंसदीय भाषा बोलते हैं. यह बात वहां की कार्रवाई देखने पर पता चली. उन्होंने यह भी कहा कि इसकी शिकायत मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से की जा चुकी है. और अगर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो दोबारा शिकायत की जाएगी.