श्रीनगर. जम्मू एवं कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती का कहना है कि राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान (एनआईटी) में दो छात्र समूहों के बीच ‘छिट-पुट’ तनाव को सांप्रदायिक रंग दिया जा रहा है, जबकि यह कोई बड़ा मुद्दा नहीं है. 
 
टेलीविजन चैनल को शुक्रवार शाम दिए इंटरव्यू में महबूबा ने यह भी कहा कि उन्होंने इस बारे में केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्री स्मृति ईरानी से भी बात की है और उन्हें घटना की विस्तृत जानकारी दी.
 
गैर-स्थानीय छात्रों की राज्य के बाहर के कॉलेजों में पढ़ने की इच्छा के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि ‘बहुत कम छात्र ऐसा चाहते हैं.’ मुख्यमंत्री ने इस मामले में अलगाववादी नेता सैयद अली शाह गिलानी के बयान को भी सराहा, जिन्होंने स्थानीय छात्रों से गैर-स्थानीय छात्रों की हिफाजत करने और एनआईटी में शांति बनाए रखने की अपील की.