मुंबई. पनामा लीक्स मामले में दौलत छुपाने का आरोप झेल रहे बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन ने चुप्पी तोड़ी है. अमिताभ ने कहा है कि जिन कंपनियों से उन्हें जोड़ा जा रहा है वे उन्हें नहीं जानते.
 
अमिताभ ने कहा है कि जिन कंपनियों को उनकी बताया जा रहा है, उनका उन्होंने नाम तक नहीं सुना और हो सकता है कि किसी ने उनके नाम का दुरुपयोग किया हो.
 
दरअसल पनामा की लॉ फर्म मोसेक फोंसेका के दस्तावेज लीक हुए हैं जिनमें अमिताभ और उनकी बहू ऐशवर्या बच्चन पर गैरकानूनी ढंग से विदेश में दौलत छुपाने का आरोप लगाया गया है.
 
अमिताभ ने कहा कि उन्होंने अपने सभी टैक्स चुकाए हुए हैं. विदेशों में किए गए अपने खर्च पर भी उन्होंने पूरा टैक्स दिया है. विदेश में जो पैसा उन्होंने भेजा है, वो भी पूरी तरह से नियम-कानून के तहत भेजा है.
 
इंडियन एक्सप्रेस के मुताबिक, अमिताभ बच्चन को चार कंपनियों का डायरेक्टर नियुक्त किया गया था, जिनमें से तीन बहामास में थीं. इन कंपनियों की आध‍िकारिक तौर पर कैपिटल 5 हजार से 50 हजार डॉलर के बीच में थी, लेकिन ये कंपनिया उन शिप्स का कारोबार कर रही थीं, जिनकी कीमत करोड़ों में थी.
 
लिस्ट में ऐश्वर्या का भी नाम है.ऐश्वर्या को पहले एक कंपनी का डायरेक्टर नियुक्त किया गया था, बाद में उन्हें कंपनी का शेयर होल्डर घोष‍ित कर दिया गया.