नई दिल्ली. कांग्रेस ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) और उसके वैचारिक सलाहकार राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर राष्ट्रीय प्रतीकों का अपमान करने का आरोप लगाया. साथ ही कहा कि दोनों देश को बांटने के घटिया एजेंडे पर काम कर रहे हैं और हमारी स्वतंत्रता के इतिहास को मरोड़ने का प्रयास कर रहे हैं.
 
आरएसएस सरकार्यवाह भैय्याजी जोशी ने शनिवार को कहा था कि राष्ट्रगान ‘जन गण मन’ में राज्यों के नाम हैं, जबकि राष्ट्रगीत ‘वंदे मातरम’ से भारतीय सांस्कृतिक पहचान और हमारे इसके प्रति समर्पण ध्वनित होता है.
 
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने कहा कि बीजेपी और आरएसएस पिछले 23 महीनों से हमारे देश के राष्ट्रीय प्रतीकों का अपमान कर रहे हैं. यह देश में एक बंटवारा पैदा करने का घटिया एजेंडा है. भैय्याजी जोशी ने सार्वजनिक तौर पर भारतीय ध्वज का अपमान किया है. यह अब साफ है कि आरएसएस स्वतंत्रता संघर्ष के इतिहास की उपेक्षा करने की कोशिश कर रहा है. 
 
कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि जोशी ने राष्ट्रगान और राष्ट्रगीत की व्यख्या करने के लिए अपमानजनक शब्दों का इस्तेमाल किया. उन्होंने कहा था कि राष्ट्रगान में देशभक्ति का भाव नहीं पैदा करता जैसा कि राष्ट्रगीत करता है. यह हमारी स्वतंत्रता के इतिहास को मरोड़ने की साजिश है.