मुंबई. देशभर में दिवंगत नेताओं को भारत रत्न दिए जाने की बहस के बीच शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने वीर विनायक दामोदर सावरकर को यह सम्मान देने की मांग की है. उद्धव का कहना है कि कांग्रेस का मुंह हमेशा के लिए बंद कराने के खातिर उन्हें भारत रत्न देना चाहिए. उद्धव ने एक बयान में केंद्र में बीजेपी की अगुवाई वाली सरकार से सावरकर को यह सर्वोच्च नागरिक सम्मान देने का आहवान किया.
 
दरअसल, शिवसेना का कहना है कि कांग्रेस ने न केवल वीर सावरकर को बल्कि अन्य सभी क्रांतिकारियों को अपमानित किया है.
 
शिवसेना ने कई बार किए आंदोलन
 
उद्धव ने कहा कि सावरकर के अपमान को लेकर शिवसेना ने कई बार आंदोलन किए हैं. संसद में कामकाज नहीं होने दिया. लेकिन उस समय हमारे इस आंदोलन से दूर रहने वाले लोग अचानक आज आंदोलन कर रहे हैं. यह खुशी की बात है, लेकिन सावरकर को भारतरत्न देने की हिम्मत भी केंद्र की मोदी सरकार को दिखानी चाहिए. 
 
कांग्रेस का ट्वीट
 
कांग्रेस ने पिछले हफ्ते एक बार फिर सावरकर पर निशाना साधाते हुए ट्वीट किया था कि भगत सिंह ने ब्रिटिश राज से आजादी के लिए संघर्ष किया है और वी डी सावरकर ने ब्रिटिश राज्य में दास बनकर रहने के लिए दया की भीख मांगी. 
 
इसके अलावा कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने इसी महीने लोकसभा में एक चर्चा में हिस्सा लेते हुए कहा था कि बीजेपी सावरकर के आदर्शों पर चलती है जबकि उनकी पार्टी महात्मा गांधी द्वारा दिखाये गये रास्ते पर चलती है.
 
BJP ने की थी कांग्रेस से माफी की मांग
 
कांग्रेस के इस बयान को लेकर मुंबई बीजेपी अध्यक्ष आशीष शेलार ने आंदोलन करके कांग्रेस से माफी मांगने की मांग की थी. शेलार ने कहा था कि कांग्रेस माफी नहीं मांगेगी तो पार्टी की तरफ से कांग्रेस विधायकों के कार्यालय के सामने आंदोलन किया जाएंगे. इस पर उद्धव ने कहा कि सावरकर को भारतरत्न देकर उनकी बदनामी की मुहिम का ढोंग बंद कर देना चाहिए. फिर आंदोलन की जरूरत भी नहीं पड़ेगी.