नई दिल्ली: कांग्रेस ने जम्मू-कश्मीर में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के साथ सरकार बनाने जा रही बीजेपी से संसद हमले के दोषी अफजल गुरु पर रुख साफ करने की मांग की है, जिसके बारे में पीडीपी का मानना है कि उसे फांसी दिया जाना ‘न्यायिक हत्या’ है.
 
कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने एक ट्वीट में कहा, “जम्मू-कश्मीर एक निर्वाचित सरकार की हकदार है और हम लोकतंत्र के जश्न का स्वागत करते हैं. लेकिन क्या बीजेपी बताएगी कि अब अफजल गुरु पर PDP-BJP गठबंधन का रुख क्या होगा?”

 
सुरजेवाला ने एक अन्य ट्वीट में कहा, “पीडीपी अफजल गुरु और अन्य की सराहना करती है. अब बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और बीजेपी किसे देश-विरोधी करार देगी?” जम्मू-कश्मीर में महबूबा मुफ्ती की अगुवाई में पीडीपी-बीजेपी के गठबंधन वाली नई सरकार बनने जा रही है.

 
महबूबा ने संसद हमले (13 दिसंबर, 2001) के दोषी अफजल गुरु को फांसी दिए जाने की निंदा की थी. बता दें कि केंद्र सरकार जवाहरलाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) के तीन छात्रों की देशविरोधी नारेबाजी करने के आरोप में गिरफ्तारी होने के बाद से कड़ी आलोचनाएं झेल रही है. देशविरोधी नारेबाजी नौ फरवरी को जेएनयू परिसर में आयोजित एक कार्यक्रम में हुई थी, जो अफजल गुरु की बरसी के मौके पर रखा गया था.