नई दिल्ली. दिल्ली सरकार ने अपने सभी अधिकारियों से कहा है कि यदि वे कोई ऐसी खबर पाते हैं जिससे मुख्यमंत्री या सरकार की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचता है तो वे प्रधान सचिव (गृह) के पास शिकायत दर्ज कराएं, ताकि आगे की कार्रवाई की जा सके.
 
सूचना एवं प्रचार विभाग निदेशालय द्वारा जारी एक सकरुलर के अनुसार यदि दिल्ली सरकार से जुड़ा कोई अधिकारी महसूस करता है कि कोई प्रकाशित या प्रसारित समाचार उसकी या सरकार की प्रतिष्ठा को धूमिल करता है तो उसे प्रधान सचिव (गृह) के पास शिकायत दर्ज करानी चाहिए. एक अधिकारी के अनुसार प्रधान सचिव (गृह) तब मामले को देखेंगे और निदेशक (अभियोजन) की राय मांगेंगे कि क्या भादंसं की धारा 499..500 के तहत अभियोजन शुरू किया जा सकता है.
 
सीएम अरविंद केजरीवाल के खिलाफ खबरों को लेकर दिल्ली सरकार सख्त हो गई है. अधिकारियों को निर्देश-मुख्यमंत्री की साख को नुकसान पहुंचाने वाली खबरों पर कार्रवाई करें. दिल्ली सरकार के सभी विभागों को सर्कुलर जारी.दिल्ली सरकार के सर्कुलर के मुताबिक यदि दिल्ली सरकार का कोई अधिकारी ये महसूस करता है कि अखबार या टीवी में आई कोई खबर सीएम केजरीवाल की साख को खराब कर रही है, तो प्रमुख सचिव(गृह) से शिकायत कर सकता है.
 
इस मामले में अधिकारी प्रमुख सचिव(गृह) को एक चिट्ठी भेजेंगे जिसमें खबरों की पूरी जानकारी के साथ, खबर देने वाली संस्था और गलतियों का जिक्र होगा, साथ ही उन आरोपों का भी जिक्र होगा और ये आधार भी बताना होगा,जिससे कि सरकार की साख खराब हो रही है.अधिकारियों की चिट्ठी के बाद प्रमुख सचिव(गृह) पूरे मामले की पड़ताल करेंगे और डायरेक्टर(प्रॉसक्यूशन) से कानूनी कार्रवाई पर राय लेंगे. राय लेने के बाद संबंधित मीडिया संस्थान के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल लगातार ये कह रहे हैं कि मीडिया उनके और आप के खिलाफ साजिश रच रहा है, पिछले दिनों केजरीवाल ने कहा था कि कुछ मीडिया हाउस ने आप को खत्म करने की सुपारी ले रखी है.

IANS