मुंबई. मुंबई आतंकी हमला केस में अमेरिका की जेल से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से गवाही दे रहे डेविड हेडली रोज नए खुलासा कर रहा है. हेडली ने पूछताछ के दौरान दावा किया है कि पाकिस्तान के पीएम उसके घर आ चुके हैं.

हेडली ने कहा कि उसके पिता पाकिस्तान रेडियो के डीजी थे. सन 2008 में उनकी मौत हो गई थी. इसके बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री यूसूफ रजा गिलानी शोक प्रकट करने के लिए उनके घर पहुंचे थे. इसके साथ ही उसने स्वीकार किया कि वह अच्छा इंसान नहीं है. उसके अनुसार ‘मैं बहुत खराब इंसान हूं, मैं मानता हूं. अब आप फिर इसे साबित करना चाहते है.’

वहीं शिवसेना के संस्थापक बाल ठाकरे पर आज फिर उसने नया खुलासा किया है. उसने दावा किया है कि अमेरिका में शिवसेना के कार्यक्रम के लिए पैसे जुटाने का काम उसने किया था. हेडली राजाराम रेगे नाम का व्यक्ति की मदद कर रहा था.

हेडली ने अमेरिका में शिवसेना के कार्यक्रम में बाल ठाकरे को बुलाने का भी प्रस्ताव दिया था. प्रस्ताव में ये था कि अगर बाल ठाकरे खराब सेहत के कारण नहीं आते हैं तो उनके बेटे उद्धव ठाकरे या शिवसेना नेताओं को बुलाया जाए.

हेडली ने ठाकरे प्लान के बारे में आतंकी संगठन लश्कर ए तैयबा से चर्चा भी की थी. लेकिन अमेरिका में बाल ठाकरे पर हमले की योजना नहीं थी. हालांकि हेडली का सपना पूरा नहीं हुआ. अमेरिका में शिवसेना का कार्यक्रम नहीं हो पाया. 

इसके साथ ही हेडली ने कहा कि वह भारत के लोगों और भारत देश दोनों से नफरत करता है. वह बचपन से ही नफरत रखता है. गौरतलब है कि मुंबई में हुए आतंकी हमले(26/11) में हेडली का दोष साबित हो चुका है. उसने इस हमले की साजिश में अहम भूमिका निभाई थी