हैदराबाद. जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार बुधवार को हैदराबाद यूनिवर्सिटी पहुंचे. लेकिन रोहित वेमुला सुसाइड मामले में हाल ही में हुए विवाद के चलते कन्हैया को कैंपस के गेट पर ही रोक दिया गया.
 
इस दौरान कन्हैया ने गेट के बाहर से ही एक छोटा सा भाषण दिया साथ ही  नारेबाजी भी की. कन्हैया ने नारे लगाए कि ‘तुम कितने रोहित मारोगे, हर घर से रोहित निकलेगा’. उन्होंने विश्वविद्याल प्रशासन पर छात्रों के विरोध के अधिकार को कुचलने का आरोप लगाया. जानकारी के अनुसार कन्हैया ने रोहित की मां से भी मुलाकात की और उन्हें न्याय दिलाने का भरोसा भी दिया.
  
बढ़ाई गई सुरक्षा
कन्हैया के कैंपस में पहुंचने के बाद से सुरक्षा बढ़ा दी गई है. जानकारी के अनुसार यूनिवर्सिटी में बाहरी लोगों के आने पर रोक लगा दी गई है.
 
कुलपति अप्पा राव का हुआ विरोध
बता दें कि यूनिवर्सिटी के वीसी अप्पा राव दो महीने की छुट्टी के बाद वापस लौटे हैं. इस बीच रोहित की आत्महत्या के लिए दोषी मानते हुए उनके दफ्तर में तोड़ फोड़ की गई साथ ही उन्हें छह घंटे के लिए बंधक भी बनाए रखा गया. पुलिस के आने के बाद हालात काबू हुए और करीब 25 छात्रों को हिरासत में लिया गया है.
 
प्रदर्शनकारी छात्र केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी और बीजेपी सांसद बंडारू दत्तात्रेय के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.जानकारी के अनुसार कन्हैया के आने से पहले ही सभी क्लासेज सोमवार तक के लिए स्थगित कर दी गई है.