नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 मार्च को तीन देशों के दौरे पर रवाना होंगे. इस दौरान प्रधानमंत्री बेल्जियम की राजधानी ब्रसेल्स में 13वें भारत-यूरोपीय संघ के सम्मेलन में भाग लेंगे. इसके अलावा वाशिंगटन में वह परमाणु सुरक्षा सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता स्वरूप संपत ने मीडिया ब्रीफिंग में कहा, “प्रधानमंत्री यूरोपीय परिषद के अध्यक्ष डोनाल्ड टस्क और यूरोपीय आयोग के अध्यक्ष जीन-क्लाउड जंकर के निमंत्रण पर 13वें भारत-यूरोपीय संघ सम्मेलन में भाग लेने 30 मार्च 2016 को ब्रसेल्स की यात्रा पर रवाना होंगे.” 
 
स्वरूप ने कहा, “मोदी बेल्जियम के प्रधानमंत्री चार्ल्स माकइल के निमंत्रण पर बेल्जियम के साथ द्विपक्षीय बैठक में भी भाग लेंगे.” उसके बाद मोदी अमेरिका के वाशिंगटन डी. सी में 31 मार्च से 1 अप्रैल तक चलने वाले चौथे परमाणु सुरक्षा सम्मेलन (एनएसएस) में भाग लेने के लिए रवाना हो जाएंगे. स्वरूप के अनुसार, मोदी परमाणु सुरक्षा के मुद्दे पर कुछ खास घोषणाएं करेंगे और प्रस्ताव भी रखेंगे. 
 
वाशिंगटन से मोदी रियाद के लिए रवाना होंगे. वह दो और तीन अप्रैल को सऊदी अरब में रहेंगे. वह शाह सलमान बिन अब्दुल अजीज अल साउद के निमंत्रण पर वहां जा रहे हैं. साल 2010 में तत्कालीन भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के दौरे के बाद सऊदी अरब का भारतीय प्रधानमंत्री का पहला दौरा है. सऊदी अरब में 29 लाख 60 हजार भारतीय काम करते हैं.