नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नई दिल्ली के पूसा कैंपस में हो रहे तीन दिवसीय कृषि उन्नति मेला का उद्घाटन किया. उन्होंने किसानों की आमदनी दोगुनी करने का अपना वादा दोहराया. इस मौके पर उन्होंने किसान सुविधा एप भी लांच किया. इसमें किसानों को मदद पहुंचाने संबंधी सभी सुविधाओं की जानकारी मौजूद हैं. मोदी ने कहा कि देश की आजादी की 75 वीं सालगिरह तक ऐसा किया जा सकता है. इसके लिए हम सबको आपस में मिलजुल कर काम करना होगा.
 
गरीबों और किसानों पर फोकस है बजट
इस मौके पर पीएम मोदी ने बजट की तारीफ करते हुए कहा कि लोगों के मुताबिक पहली बार गरीबों और किसानों पर फोकस बजट पेश किया गया है. उन्होंने कहा कि गांवों में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ाने और किसानों की क्रय क्षमता को बढ़ाने पर बजट का फोकस रहा है.
 
कांग्रेस पर किया हमला
उन्होंने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि हम कुछ भी करते हैं वो कहते हैं कि इसे तो हमारे समय में ही शुरू किया गया था. फिर बताइए इतने सारे बांध उन्होंने बनवाए फिर किसानों और उनके खेत तक पानी क्यों नहीं पहुंचा.
 
किसान चैनल का लाभ उठाएं किसान
उन्होंने कहा कि कृषि मंत्रालय की ओर से हो रहे मेले में किसानों को जागरूक करने की कोशिश की जा रही है. उन्‍हें देश में वर्तमान समय मौजूद नई आधुनिक कृषि प्रौद्योगिकी के बारे में बताया जा रहा है. पीएम मोदी ने कहा कि दूरदर्शन के किसान चैनल पर भी किसानों के लिए जरूरी बहस होती है. वहां सिर्फ पीएम की खबर ही नहीं दिखाई जाती.
 
भगवान का सबसे बड़ा तोहफा है पानी
प्रधानमंत्री ने लोगों से पानी बचाने की अपील की. उन्होंने कहा कि पानी हमारे लिए भगवान की ओर से मिला सबसे बड़े तोहफा है. इसे बचाने पर सबसे अधिक ध्यान दिया जाना चाहिए. उन्होंने किसानों से पानी की बर्बादी रोकने और उसके अधिकतम उपयोग की तकनीक अपनाने पर जोर देने के लिए कहा.
 
किसानों की आय करेंगे दोगुनी
मोदी ने कहा कि मेरा एक सपना है और यह सिर्फ मेरा नहीं, आपका भी होना चाहिए. जब 2022 में भारत की आजादी के 75 साल पूरे होंगे तो क्या हम किसानों की आय दोगुनी पूरी कर सकते हैं क्या? अब तक हमने कृषि उत्पादन की ग्रोथ को केंद्र में रखा है, लेकिन उससे किसानों का भला नहीं होगा. हमें उससे आगे का सोचना होगा और तभी हम 2022 का अपना यह लक्ष्य हासिल कर पाएंगे.