पूणे. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रमुख मोहन भागवत ने हिंदू राष्ट्रवाद को फांसीवाद करार दिए जाने के संबंध में कहा है कि भारत में कभी कोई हिटलर पैदा नहीं होगा. उन्होंने संत तुकाराम के जन्मस्थान डेहू में एक वैदिक स्कूल के उद्घाटन के मौके पर कहा की भारत एक महान देश तो बनेगा ही लेकिन यहां कोई हिटलर नहीं होगा.
 
भागवत ने स्कूल के उद्घाटन के बाद अपने संबोधन में भारत को विश्व के लिए बड़े भाई की तरह बताते हुए कहा, ‘भारत विश्व के कुछ प्राचीन देशों में शामिल है और जब हम प्राचीन हैं तो शेष विश्व के लिए बड़े भाई की तरह हैं. आध्यात्मिकता की समृद्ध विरासत और महान संतों के मार्गदर्शन में हम विश्व नेता का दर्जा हासिल करेंगे’.
 
उन्होंने कहा, ‘भारत को एक बड़ा और महान देश बनना ही है. लेकिन बड़े बनने की इस प्रक्रिया में कोई हिटलर पैदा नहीं होगा’. भागवत ने कहा कि भारत की धरती में बुद्ध पैदा होंगे, शंकराचार्य पैदा होंगे और संत पैदा होंगे लेकिन हिटलर नहीं. हमें महानता हासिल करने के लिए समर्पित लोगों और समाज की जरूरत है.