नई दिल्ली. रेल मंत्री सुरेश प्रभु द्वारा जारी एक सर्वेक्षण रिपोर्ट के अनुसार, गुजरात के सूरत और राजकोट के रेलवे स्टेशन देश के 10 सबसे अधिक साफ रेलवे स्टेशनों में शामिल हैं. एक अधिकारी ने बताया कि रेलवे ने बजट-2016 में की गई घोषणा के तहत यह सर्वेक्षण किया है. आइआरसीटीसी और टीएनएस इंडिया प्राइवेट लिमिटेड द्वारा किए गए ‘स्वच्छ रेल-स्वच्छ भारत अभियान’ सर्वेक्षण के प्रारंभिक परिणाम घोषित किए गए हैं. 
 
एक आधिकारिक बयान में कहा गया, ” 16 मंडलीय रेलवे के 407 रेलवे स्टेशनों पर यह सर्वेक्षण कराया गया. इसमें लोगों से साफ-सफाई के मानकों के आधार पर सवाल पूछे गए थे.” ‘ए1’ व ‘ए’ श्रेणी के 407 में से 13 स्टेशनों ने 75 प्रतिशत से अधिक अंक लाकर विशिष्ट प्रथम श्रेणी तथा 92 स्टेशनों ने 60 प्रतिशत से अधिक अंकों के साथ प्रथम श्रेणी हासिल किया. इसी तरह ए श्रेणी के 332 स्टेशनों में पंजाब का ब्यास स्टेशन सबसे साफ रहा और मधुबनी फिसड्डी. इंदौर स्टेशन को ए श्रेणी में रखा गया था, लेकिन उसकी रेटिंग लेवल-4 रही.
 
सर्वेक्षण 16 जनवरी से पांच फरवरी के बीच किया गया था. इस मौके पर प्रभु ने कहा कि यह सर्वेक्षण सबके लिए एक आईना होगा और इससे रेलकर्मियों को अपने प्रयासों के आकलन का मौका मिलेगा ताकि वे आगे और अच्छे प्रयास कर सकें. समारोह में प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री डॉ. जितेन्द्र सिंह, रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा, रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष ए के मित्तल भी मौजूद थे. इसी कार्यक्रम में रेलवे और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के मध्य सुदूर संवेदन एवं ग्राफिक सूचना प्रणाली आधारित शासन अनुप्रयोग के लिये अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के प्रयोग संंबंधी एक करार पर हस्ताक्षर किए.