नई दिल्ली. जाट आरक्षण आंदोलन पर बातचीत के लिए गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मुलाकात की है. शुक्रवार की सुबह की गई इस बैठक में जाट आरक्षण आंदोलन पर चर्चा हुई है.
 
गुरुवार को जाट आरक्षण पर अल्टीमेटम खत्म हो गया है जिसके बाद खट्टर सरकार ने जाट नेताओं को बातचीत के लिए बुलाया है. वहीं दूसरी तरफ जाट नेताओं ने ऐलान किया है कि अगर वार्ता फेल हो जाती है तो आंदोलन फिर शुरू हो जाएगा. इसके मद्देनजर रोहतक में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है.
 
हरियाणा में दोबारा आंदोलन करने की जाट कम्युनिटी की चेतावनी के चलते इंटरनेट सर्विसेस फिर से बंद कर दी गई हैं. रोहतक, झज्जर और सोनीपत में इंटरनेट और बल्क मैसेज भेजने पर भी रोक लगा दी गई है. पिछले महीने आंदोलन के दौरान भी इंटरनेट सर्विस बंद कर दी गई थी.
 
बता दें कि बढ़ते तनाव को देखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने होम मिनिस्टर राजनाथ सिंह और हरियाणा के सीएम मनोहर लाल खट्टर से गुरुवार दोपहर बातचीत की थी. जिसमें उन्होंने हिदायत दी थी कि राज्य में पिछली बार जैसी हिंसा न हो. पिछले महीने राज्य में हिंसा के दौरान 30 लोगों की मौत हुई थी.