देहरादून. देहरादून में घायल हुए शक्तिमान घोड़े की हालात अब बिगड़ने लगी है. उसकी जान बचाने के लिए मजबूरन उसकी टांग काट दी गई है. उत्तराखंड के डीजीपी बीएस सिद्धू ने बताया कि शक्तिमान के इलाज के लिए पुणे से विशेषज्ञ बुलवाया गया है.  आर्मी के एक्सपर्ट को बुलवाया गया है. अब शक्तिमान की टांग को कांटना ज़रूरी हो गया है वरना उसकी जान को खतरा है. टांग की सर्जरी शुरू कर दी गई है.

इससे पहले पुलिस लाइन में शक्तिमान की देखरेख में लगे पंतनगर और स्थानीय डॉक्टरों ने हाथ खड़े कर दिए. उधर बीजेपी इस पूरे मामले में सरकार पर ये कहकर आरोप लगा रही है कि कांग्रेस अब घोड़े को मारकर बीजेपी को बदनाम करना और विधायक को फ़साना चाहती है. अब शक्तिमान के लिए आर्टिफिशियल लिंब यानि कृत्रिम पैर डिजाइन करने का अनुरोध किया गया है.

पिछले 4 दिनों से दर्द से कराह रहा पुलिस के होनहार घोड़े शक्तिमान की हालत खराब हो रही है. ये हालात इस लिए भी बिगड़ी क्योंकि कल देर शाम को पुलिस की मदद से डाक्टरो की एक टीम ने एक खास उपकरण की सहायता से घोड़े को उठाने की कोशिश की, जिसके बाद वो खड़ा तो नहीं हो पाया उल्टा नीचे गिर गया. इसके बाद उसके पैर में जो रॉड लगायी गयी थी वो अपनी जगह से खिसक गयी.