नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में एम्स के एक जूनियर डॉक्टर को हॉस्टल के कमरे में मृत पाया गया, हॉस्पिटल  के अधिकारियों ने इस बात की जानकारी दी. अधिकारियों के मुताबिक, डॉक्टर एम्स के चिकित्सा विभाग से पीजी कर रहा था और मस्जिद मोठ इलाके में हॉस्पिटल के हॉस्टल में रहता था. 
एक सीनियर ऑफिसर ने बताया “हमें गुरुवार सुबह 11 बजे जानकारी मिली कि चिकित्सा विभाग से पीजी कर रहा एक छात्र मृत पाया गया है”. उन्होंने कहा “मौत की सही जानकारी का पता लगाने के लिए शव को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया गया है”. हालांकि मृत छात्र के पहचान के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई और न ही पोस्टमॉर्टम के बारे में ज्यादा जानकारी दी गई .
 
इससे पहले, साल 2014 में एक 20 साल की छात्रा ने वार्डेन और कर्मचारियों के साथ  एम्स की 20 वर्षीय नर्सिग की छात्रा ने वार्डेन और कर्मचारियों के साथ तनावपूर्ण संबंधों को लेकर हॉस्टल में अपने कमरे के पंखे से लटककर आत्महत्या कर ली थी.