मुंबई. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना में ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन नेता अकबरुद्दीन ओवैसी पर निशाना साधते हुए कहा है कि जो लोग ‘भारत माता की जय’ न बोलें उनकी नागरिकता रद्द होनी चाहिए.

इतना ही नहीं सामना में ऐसे लोगों से मतदान का अधिकार भी वापस लेने को कहा गया है. पत्र में लिखा गया है कि जो ‘भारत माता की जय नहीं बोलेंगे उनकी नागरिकता रद्द करो, उनका मतदान का अधिकार छीन लो.’

फड़नवीस पर साधा निशाना

इसके साथ ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस पर भी निशाना साधा गया है. पत्र में लिखा गया है कि ‘महाराष्ट्र में बीजेपी पार्टी की सरकार है और बीजेपी के ही मुख्यमंत्री हैं, फिर भी ओवैसी लातुर में भारत माता का अपमान कर के वापस सही सलामत कैसे जा सकता है. इसका जवाब मुख्यमंत्री फड़नवीस को देना ही होगा.’

सामना में भारत में रह रहे अन्य मुसलमानों पर भी वार किया गया है. पत्र में लिखा गया है कि ओवैसी ने भारत माता का अपमान किया है. अब ओवैसी के विरोध में मुसलमानों को भारत माता की जय-जयकार करना होगा. जो भारत माता की जय नहीं बोलेंगे उनकी नागरिकता रद्द करो. उनता मतदान का अधिकार छिन लो.