नई दिल्ली. सीबीएसई की 12वीं कक्षा के मैथ्स के कठिन पेपर को लेकर केंद्रीय मंत्री वेंकैया नायडू ने कहा कि इस मसले की जांच की जरूरत है और वे इस बारे में एचआरडी मंत्री स्मृति ईरानी से  बात करेंगे.

नायडू ने कहा कि इस मामले के दो पहलू हैं. पेपर के कुछ प्रश्न बेहद कठिन थे. यहां तक कि अच्छे छात्र भी कुशलता से इसका जवाब नहीं दे पाए. मीडिया के मुताबिक कुछ प्रश्न लीक भी हो गए थे और ये बाजार में बिके.

 नायडू ने कहा कि यह स्टूडेंट्स और उनके भविष्य से जुड़ा हुआ सवाल है. इसकी जांच की जरूरत है. मैं इस बारे में अपनी भावनाओं से एचआरडी मंत्री को अवगत करा दूंगा.  कांग्रेस के केसी वेणुगोपाल और आरएसपी के एनके प्रेमचंद्रन ने मंगलवार को यह मसला संसद में उठाया. वेणुगोपाल ने कहा कि मैं सरकार से आग्रह करता हूं कि इस मामले को देखे और जरूरी कदम उठाए.

एआईएडीएमके के एसआर विजय कुमार ने भी कहा कि कई स्टूडेंट्स को महसूस हुआ कि पेपर के कुछ प्रश्न के जवाब इतने बड़े हैं कि इन्‍हें निर्धारित समय में पूरा करना मुश्किल है. मैं एचआरडी मंत्री से इस मामले में दखल का आग्रह करता हूं. गौरतलब है कि 14 मार्च को हुए इस पेपर के बाद कई छात्रों ने पेपर के बेहद कठिन होने की शिकायत की थी.