नई दिल्ली. दिल्ली सरकार में महिला एवं बाल विकास मंत्री संदीप कुमार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया से डांट खानी पड़ी है. संदीप एक स्कूल में नई बनी कक्षाओं की शिलान्यास पट्टी पर अपनी पत्नी का नाम लिखवाना चाहते थे. 
 
जब स्कूल की प्रिंसिपल ने उनकी इस मांग को मानने से इनकार किया, तो मंत्री जी ने सार्वजनिक तौर पर प्रिंसिपल को अपमानित किया. इस घटना के संबंध में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को शिकायत की गई.
 
दोनों ने संदीप को बुलाया और उन्हें उनके बर्ताव के लिए डांट लगाई. केजरीवाल और सिसोदिया के कहने पर संदीप ने प्रिंसिपल से माफी भी मांगी. 
 
मंत्री ने दिया था पत्नी का नाम लिखवाए जाने का निर्देश
 
सुल्तानपुरी स्थित सर्वोदय कन्या विद्यालय में नए बने क्लासरूमों का उद्घाटन 10 मार्च को होना था. संदीप कुमार के दफ्तर से कथित तौर पर 4 मार्च को लिखित निर्देश जारी किया गया था. इसमें कहा गया था कि उनकी पत्नी का नाम वहां शिलान्यास पट्टी पर लिखवाकर लगाया जाए. 9 मार्च को जब प्रिंसिपल की जानकारी में यह बात आई तो उन्होंने मंत्री को फोन किया और कहा कि स्कूल के लिए ऐसा कर पाना मुमकिन नहीं होगा. 
 
शिलान्यास की तस्वीर ट्वीट भी की थी
रिपोर्ट के मुताबिक ’10 मार्च को उद्घाटन समारोह के दौरान मंत्री संदीप कुमार स्कूल पहुंचे और उन्होंने ठेकेदार पर दबाव बनाया कि वह उनकी पत्नी का नाम शिलान्यास पट्टिका पर लिखे. उन्होंने ऐसा ना करने के लिए प्रिंसिपल को सार्वजनिक तौर पर अपमानित भी किया. इस शिलान्यास पट्टिका की एक तस्वीर को संदीप ने ट्वीट भी किया था. इसके आखिर में लिखा है कि सम्मानीय रितु वर्मा जी की मौजूदगी में.’