नई दिल्ली. इशरत जहां केस में गुम हुई फाइलों पर केंद्र सरकार ने हाई लेवल कमेटी का गठन किया है. इस कमेटी का गठन केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने किया है.
 
कमेटी मामले की गंभीरता से तफ्तीश करेगी जिसमें यह ढूंढा जाएगा कि इशरत से जुड़ी फाइलें कहां गई और आखिर कैसे गायब हुईं. इसकी भी जांच होगी की दूसरा हलफनामा तैयार करने में कौन-कौन से अधिकारी शामिल थे.
 
कुछ दिन पहले पूर्व गृह सचिव जी के पिल्लई ने दावा किया था कि इशरत जहां एनकाउंटर केस में होम मिनिस्ट्री ने जो दूसरा हलफनामा दिया था वो तत्कालीन गृहमंत्री पी चिंदबरम के कहने पर बदला गया था. उन्होंने राजनीतिक कारणों की वजह से एफिडेविट बदलने की बात कही थी.
 
क्या था हलफनामे में?
पहले हलफनामे में इशरत जहां के लश्कर से लिंक बताया गया था, बाद में कथित तौर पर दूसरे हलफनामा तैयार कराया गया जिसमें इशरत का लश्कर से संबंध नहीं बताया गया था.