नई दिल्ली: यमुना किनारे चल रहे वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल का आज तीसरा और अंतिम दिन है. वर्ल्ड कल्चर फेस्टिवल बारिश की वजह से तीसरे दिन भी प्रभावित हुआ है. बारिश की वजह से योग और ध्यान का कार्यक्रम रद्द हो गया है लेकिन इसके अलावा होने वाले कई सांस्कृतिक कार्यक्रमों को पेश किया जाएगा. जिसे देखने के लिए भारी भीड़ उमड़ने की संभावना है.
 
‘यमुना साफ करके जाएंगे’
इससे पहले फेस्टिवल के दूसरे दिन यानि शनिवार को भी यहां रंगारंग कार्यक्रम हुए. शनिवार को यहां दुनिया की सबसे बड़ी ऑरकेस्ट्रा ने अपनी परफॉर्मेंस से लोगों का दिल जीत लिया. दूसरे दिन आर्ट ऑफ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने कहा कि हमें यमुना जिस स्थिति में मिली है, उससे साफ करके ही जाएंगे.
 
‘धर्मनिरपेक्ष देश है भारत’
समारोह के दुसरे दिन विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और गृहमंत्री राजनाथ सिंह भी शामिल हुए. अपने संबोधन में सुषमा स्वराज ने कहा कि भारत धर्मनिरपेक्ष देश है, इसका मतलब यही है कि सब एक साथ एक दूसरे के धर्म को आदर देकर साथ रहें. दूसरे दिन कार्यक्रम में पाकिस्तानी लीडर शेरी रहमान ने भी शिरकत की. 
 
’35 साल पूरे होने पर कार्यक्रम’
बता दें कि आर्ट ऑफ लिविंग संस्था के 35 साल पूरे होने पर यह कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है. इस दौरान कई तरह के सांस्कृतिक कार्यक्रमों के जरिये भारतीय संस्कृति को वैश्विक पटल पर प्रस्तुत किया जाएगा. तीन दिवसीय इस भव्य कार्यक्रम में 155 से ज्यादा देशों से लोगों के शिरकत करने की संभावना है. इससे पहले हुए विवाद में श्रीश्री की संस्था ने एनजीटी की तरफ से लगाए गए जुर्माने में से 25 लाख रुपए जमा कर दिए हैं. एनजीटी ने आर्ट ऑफ लिविंग (एओएल) पर पांच करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है. बाकी राशि 4 करोड़ 75 लाख को भरने के लिए चार सप्ताह का समय मिला है.